डब्ल्यूसीबी ने ओलंपियन मनोज कुमार और केएस विनोद के बीच मैच की घोषणा की, चैरिटी प्लान का किया खुलासा

0
358

भारत चौहान नई दिल्ली, वर्ल्ड चैरिटी बॉक्सिंग (डब्ल्यूसीबी) संगठन ने शनिवार को प्रेस क्लब ऑफ इंडिया में अपने मिशन और चल रहे चैरिटी कार्य के बारे में संक्षिप्त परिचय देने के साथ-साथ ओलंपियन मनोज कुमार और केएस विनोद के बीच होने वाले चैरिटी बॉक्सिंग मैच की घोषणा करने के लिए एक प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित की।

डब्ल्यूसीबी एक प्रसिद्ध मंच है जिसने संयुक्त राज्य अमेरिका, ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया और अन्य यूरोपीय देशों में लोकप्रियता हासिल की है। संगठन का उद्देश्य पूरी दुनिया में खेल संस्कृति को बढ़ावा देना है और यह संगठन खेल दान के माध्यम से मानवता की सेवा करने के नेक काम के लिए समर्पित है। डब्ल्यूसीबी पेशेवर मुक्केबाजी पद्धति के अनुसार 2 मिनट के 3 राउंड तक लड़ने के लिए मशहूर हस्तियों और अन्य खिलाड़ियों सहित सभी के लिए एक मंच प्रदान करता है।

ओलंपियन मनोज कुमार और केएस विनोद के बीच आगामी चैरिटी बॉक्सिंग मैच डब्ल्यूसीबी द्वारा अपने मिशन को हासिल करने की दिशा में उठाया गया एक और कदम है। बॉक्सिंग मैच अक्टूबर में संयुक्त राज्य अमेरिका में आयोिजत किया जाएगा।

डब्ल्यूसीबी मैच से कमाए गए पैसों का इस्तेमाल स्पोर्ट्स किट खरीदने और खेल में जरूरतमंद बच्चों की मदद करने में करेगी। संगठन विश्व स्तर पर खेल संस्कृति को फैलाने के लिए प्रतिबद्ध है और इसका उद्देश्य सभी को समान अवसर प्रदान करना है।

केरल, भारत के रहने वाले एक युवा एथलीट, मॉडल और गतिशील व्यवसायी केएस विनोद, आगामी चैरिटी बॉक्सिंग मैच में सेनानियों में से एक हैं। विनोद एक योग्य इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियर हैं और उन्होंने पोषण और आहार के अनुसंधान और अभ्यास में अपनी क्षमता और प्रतिभा को भी साबित किया है। उन्होंने प्रो बॉक्सिंग, क्रावमागा, किकबॉक्सिंग, एमएमए, रेसलिंग और सैम्बो जैसे खेलों में बड़े पैमाने पर प्रशिक्षण लेकर  कई खेल कौशल में महारत हासिल की है। वह डब्ल्यूबीसी चैंपियन हैं और मिस्टर इंडिया का खिताब भी हासिल कर चुके हैं। विनोद की प्रतिभा और दृढ़ता आने वाली पीढ़ियों के लिए प्रभावशाली है। वह बहुआयामी परोपकारी गतिविधियों के माध्यम से समाज के कमजोर वर्गों के उत्थान के लिए उत्साह से काम करते हैं और हमेशा खेल से प्यार करने वालों के लिए एक प्रेरक के रूप में कार्य कर रहे हैं।
जबकि मनोज कुमार एक प्रसिद्ध भारतीय मुक्केबाज हैं जिन्होंने अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता में अपनी पहचान बनाई है और 2010 के राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक और 2018 एशियाई खेलों में कांस्य पदक जीता है। अपने तेज फुटवर्क और आक्रामक शैली के लिए जाने जाने वाले मनोज को भारतीय मुक्केबाजी में उनके उत्कृष्ट योगदान के लिए प्रतिष्ठित अर्जुन पुरस्कार भी मिल चुका है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here