जम्मू से लेकर सरहद तक हाई अलर्ट राज्यपाल ने कहा, सुरक्षा की हो समीक्षा

0
153

भारत चौहान,दक्षिण कश्मीर के लेतपुरा, पुलवामा में बृहस्पतिवार दोपहर बाद सीआरपीएफ के काफिले पर हुए फिदायीन हमले के बाद जम्मू में सभी सुरक्षा प्रतिष्ठानों तथा अन्य महत्वपूर्ण इमारतों की सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। वहीं, भारत-पाक सीमा व नियंतण्ररेखा पर हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। हमले के बाद जम्मू में कई नाकों पर पुलिस ने चौकसी और बढ़ा दी है। इस बीच, राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने सभी सुरक्षाबलों के कमांडरों के साथ-साथ जिलाधीशों तथा मंडलायुक्तों के अलावा पुलिस प्रशासन से कड़े शब्दों में कहा है कि वह सुरक्षा प्रबंधों की समीक्षा करें। बृहस्पतिवार देर शाम राज्यपाल के सलाहकार विजय कुमार ने मीडिया के पूछने पर यह माना कि आतंकी हमलों के इनपुट तो मिलते रहते हैं, लेकिन उस पर निश्चित इनपुट नहीं मिल पाते। उन्होंने कहा कि आतंकवाद के खिलाफ जारी अभियान यूं ही चलता रहेगा और जब तक एक भी आतंकी बचेगा, तब तक उन्हें बख्शा नहीं जाएगा। उधर, इस हमले के बाद जम्मू संभाग में लोगों में जबरदस्त आक्रोश पैदा हो गया है। लोगों का कहना है कि अब घाटी में आतंकवाद को हर सूरत में कुचल देना चाहिए। भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं एमएलसी रमेश अरोड़ा ने कहा कि पाकिस्तान को अब आतंकी मुल्क घोषित कर देना होगा। वहीं जिस प्रकार पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर में आतंकियों के जरिए प्रॉक्सी वार चला रहा है, भारत को भी उसी रणनीति पर काम करना चाहिए। इस हमले को लेकर शुक्रवार को कई संगठनों ने पाकिस्तान के खिलाफ प्रदर्शन तथा जेएंडके हाईकोर्ट बार एसोसिएशन, जम्मू की ओर से भी अदालती काम स्थगित करने के साथ प्रदर्शन करने की घोषणा की गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here