दिल्ली में महिला सुरक्षा के सवाल पर तीन सालो में खाली हाथ है दिल्ली सरकार नहीं किया कोई काम

0
721

भारत चौहान नई दिल्ली

दिल्ली में डीटीसी बस में डीयू छात्रा से छेड़छाड़ मामले ने आज दिल्ली में महिला सुरक्षा की हकीकत की पोल खोलकर रख दी है साथ ही इस घटना ने विरोधियों को भी बोलने का मौका दे दिया है इसी मुद्दे पर आज स्वराज इंडिया ने कई सवाल केजरीवाल सरकार से पूछे
स्वराज इंडिया के नेता अनुपम ने पूछा महिला सुरक्षा दल, बसों में मार्शल और सीसीटीवी जैसे बड़े बड़े वादे करने वाली दिल्ली सरकार के पास आज क्या जवाब है?
चलती सार्वजनिक बस में दिल्ली विश्वविद्यालय की छात्रा से हुई अभद्रता, बदसलूकी और छेड़छाड़ की शर्मनाक घटना के बाद छात्राओं में भारी आक्रोश है। ज्ञात हो कि अधेड़ उम्र के एक युवक ने डीटीसी बस के अंदर विश्विद्यालय की एक छात्रा से छेड़छाड़ की और फ़िर भरी बस में अश्लील हरक़त की। घटना के बाद पुलिस ने एफआईआर दर्ज़ कर लिया है लेकिन अपराधी की अब तक गिरफ़्तारी नहीं हुई है।

अपनी सुरक्षा को लेकर चिंतित छात्राएं इस मसले पर दिल्ली के मुख्यमंत्री, पुलिस कमिश्नर और विश्वविद्यालय के उप-कुलपति से मिलकर सुरक्षा की मांग करेंगी।
स्वराज इंडिया के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष अनुपम ने मांग किया है कि डीटीसी बस के अंदर हुए इस शर्मनाक घटना के अपराधी को जल्द से जल्द गिरफ़्तार किया जाए।

ज्ञात हो कि निर्भया आंदोलन में अग्रणी भूमिका निभाने वाली आम आदमी पार्टी की सरकार को दिल्ली में आज तीन साल हो चुके हैं। दिल्ली सरकार की डीटीसी बसों में खुलेआम ऐसी घटनाएं होना बड़े शर्म की बात है। सरकार के महिला सुरक्षा संबंधी दावों और वादों को याद दिलाते हुए अनुपम ने दिल्ली सरकार से चार सीधे सवाल पूछे हैं।

1. ‘महिला सुरक्षा दल’ के वादे का क्या हुआ?
2. किन बसों के अंदर सीसीटीवी कैमरे लगे हैं?
3. डीटीसी बसों के अंदर मार्शल कहाँ हैं?
4. लास्ट माईल कनेक्टिविटी के लिए सरकार ने क्या किया है?

राजधानी दिल्ली में महिला सुरक्षा जैसे मामले पर दिल्ली सरकार के अगंभीर रवैये को अनुपम ने केजरीवाल सरकार के तीन साल की एक बड़ी विफ़लता बताया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here