आप बिहार में पर्यटन के क्षेत्र में निवेश करें, बिहार सरकार आपके साथ है: श्री नीतीश मिश्रा, मंत्री, पर्यटन विभाग

0
80

भारत चौहान नई दिल्ली,बिहार पर्यटन के क्षेत्र में निवेश और व्यापक प्रचार-प्रसार हेतु राष्ट्रीय राजधानी नई दिल्ली में इन्वेस्टमेंट मीट और रोड शो शुक्रवार को संपन्न हुआ। चाणक्यपुरी स्थित अशोका होटल में यह कार्यक्रम सुबह 10.30 बजे से आयोजित किया गया।

इन्वेस्टमेंट मीट को संबोधित करते हुए बिहार में विरासत भी है और उनका विकास भी हो रहा है। बिहार में आप निःसंकोच निवेश के लिए आइए, सरकार आपके साथ खड़ी रहेगी। हम देश भर में रोड शो के साथ निवेश सत्र आयोजित कर रहे हैं, अगले माह कोलकाता में आयोजित किया जाएगा। हमारे यहां ताज, हयात और सरोवर ग्रुप ने निवेश किया है। आप भी आएं, आपके लिए सीधी सब्सिडी सहित कई सुविधाएं प्रदान की जा रही हैं। मैं मिथिला से आता हूँ तो मिथिला का आतिथ्य भाव आपको मिलेगा, इसका भरोसा दिलाते हैं।

बिहार पर्यटन सचिव श्री अभय कुमार सिंह ने कार्यक्रम में दिल्ली स्थित पर्यटन उद्योग से जुड़े व्यवसायी, ट्रैवेल एजेंट, टूर ऑपरेटर्स, होटेलियर्स आदि को संबोधित करते हुए उनसे बिहार पर्यटन विभाग द्वारा संचालित किए जा रहे योजनाओं, कार्यक्रमों और नीतियों की जानकारी साझा की। पर्यटन सचिव ने अपने संबोधन में कहा कि बिहार में पर्यटन के क्षेत्र में सभी सर्किट्स में आधारभूत संरचनाओं के साथ पॉलिसी के स्तर पर काफी काम किया जा रहा है, जिसमें पर्यटन उद्योग में सब्सिडी से लेकर कई सुविधाएं दी जा रही है। इसके सकारात्मक परिणाम दिखाई दे रहे हैं, इसे और बेहतर किया जा रहा है।

स्थानिक आयुक्त श्री कुंदन कुमार ने कहा कि बिहार सरकार की नई उद्योग नीति में निवेशकों के लिए काफी अवसर सृजित हुए हैं। इसके कारण औद्योगिक निवेश में काफी वृद्धि हुई है। बिहार बिजनेस कनेक्ट 2023 में 50 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा के एमओयू हुए हैं, इसके कारण सामान्य औद्योगिक गतिविधियों से लेकर पर्यटन के क्षेत्र में निवेश हो रहे हैं। इससे परिदृश्य में बेहतरी आ रही है। उन्होंने आगे कहा कि वह स्थानिक आयुक्त के साथ निवेश आयुक्त भी हैं तो यदि किन्हीं को कोई भी परेशानी है तो वह किसी भी समय उनसे संपर्क कर सकते हैं।

पर्यटन निगम के प्रबंध निदेशक श्री नंद किशोर ने पर्यटन नीति की बारीकियों को सबके सामने रखा। उन्होंने कहा कि सभी राज्यों के टूर ओपेरेटर्स या होटेलियर्स को केवल बिहार में एक दफ्तर खोलना होगा और जीएसटी लेनी होगी। इसके बाद वह भी होटल निर्माण, थीम रेस्तरां व पार्क, मेडिटेशन सेंटर, गोल्फ कोर्स, रूरल विलेज आदि बनाने के लिए 25 करोड़ रुपये तक के अनुदान का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

कार्यक्रम में धन्यवाद ज्ञापन करते हुए बिहार पर्यटन निदेशक श्री विनय कुमार राय ने कहा कि बिहार में 2023 में 8.21 करोड़ घरेलू और विदेशी पर्यटक बिहार पहुंचे हैं। हमें इस आंकड़े को और बेहतर करना है। कार्यक्रम में बिहार की नयी पर्यटन नीति, पर्यटकीय सुविधाओं के विकास की अद्यतन स्थिति को पावर प्वाइंट प्रजेंटेशन के माध्यम से बताया गया। इसके साथ ही सवाल-जवाब का सत्र भी आयोजित किया गया, जिसमें पर्यटन सचिव ने सभी हितधारकों के सवालों के जवाब दिए। धन्यवाद ज्ञापन पर्यटन निगम के जीएम श्री अभिजीत कुमार ने किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here