राहुल गाँधी ने उठाये सवाल बिना हथियार के भारतीय सैनिक चीनी सैनिको से बात करने किस वजह से गए

0
261

भारत चौहान नई दिल्ली, गलवान घाटी में शहीद हुए 20 जवानों की राख भी ठंडी नहीं हुई और सियासत पूरे जोर से दहकने लगी. कांग्रेस नेता राहुल गाँधी ने सवाल उठाए हैं कि जवानों को बिना हथियार के दुश्मनों के सामने किसने किया. लेकिन सरकार कह रही है कि LAC पर यही रवायत है और आज की नहीं बहुत पहले की है. सरहद पर एक भी गोली नहीं चली लेकिन देश के 20 सपूतों की लाशें बिछ गई. लद्दाख की गलवान घाटी में सोमवार रात जो हुआ उसे सुनकर सबसे पहले हर किसी के मन में यही सवाल आया कि वो कैसी खूंखार जंग रही होगी, जिसमें बिना गोली या बम चले 20 जवान शहीद हो गए. लेकिन आम आदमी के जेहन में उठने वाला ये सवाल 24 घंटे के अंदर सियासत का बड़ा हथियार बन गया. पहला सवाल कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने उठाया कि जब हमला हुआ तो सैनिको ने हथियार क्यों नहीं इस्तेमाल किए, क्या उन्हें बिना हथियारों के LAC पर तैनात किया गया था?इसके बाद कांग्रेस नेता और पंजाब के मुखयमंत्री कैप्टेन अमरिंदर सिंह ने भी सरकार से इसी बात को लेकर अपने सवाल दागे.इन सवालो के जवाब में विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा है की एक संधि के तहत दोनों तरफ के जवान बिना हथियारों के ही बात करने जाते रहे है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here