सड़क दुघर्टना में सहायता पहुंचाएगा पीएस वेलनेस एप

पहली बार देश के हर कोने के ऑपरेटर एक मंच पर आएं - इलाज और जांच संबंधी जानकारी भी ले सकते हैं पीएस वेलनेस मोबाइल एप पर

0
174

भारत चौहान नई दिल्ली,अब मोबाइल एप की मदद से सड़क दुर्घटना के समय एंबुलेंस की निशुल्क सेवा ली जा सकेगी। पीएस वेलनेस सेवा के माध्यम से मार्ग दुर्घटना के शिकार मरीज को देश के किसी भी कोने से निशुल्क सहायता मिलेगी। पहली बार निजी एंबुलेंस ऑपरेटर एप के जरिए एक मंच पर आए हैं। मोबाइल एप 20 अक्टूबर से प्लेस्टोर से डाउनलोड किया जा सकेगा। इलाज के अलावा एप के माध्यम से इलाज व जांच संबंधी जानकारी भी ली जा सकेगी।
शनिवार को देश का पहला निजी एंबुलेंस मोबाइल एप लांच किया गया। पीएस एंबुलेंस सर्विस प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक नसीब सिंह भट्ट ने कहा कि मेडिकल इमरजेंसी में हम पिछले कई सालों से काम कर रहे हैं। मोबाइल एप के माध्यम से देश के सभी एंबुलेंस ऑपरेटर को एक प्लेटफार्म से जोड़ा जाएगा। जिससे एंबुलेंस ऑपरेटरों के कई तरह के झगड़े भी खत्म किए जा सकेगें। मोबाइल एप के जरिए देश के किसी भी कोने से मरीज चिकित्सा संबंधी सहायता भी ले सकते हैं। मोबाइल एप को बीस अक्टूबर को आधिकारिक रूप से शुरू किया जाएग, जिसे प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। इसमें सड़क दुर्घटना के शिकार मरीज से किसी भी तरह का शुल्क नहीं लिया जाएगा। मरीज के एंबुलेंस में आने वाले खर्च पीएस एंबुलेंस सेवा द्वारा दिया जाएगा। इसे देश के सभी छोटे बड़े अस्पतालों से जोड़ा जाएगा। श्री नितिन सिंह भट्ट जी के जन्मदिन के मौके पर विशेष रूप से मोबाइल एप को लांच किया गया। पीएस के संचालक निदेशक श्री जीत सिंह का पीएस के उत्थान में काफी योगदान दिया है। कार्यक्रम में उपस्थित ऑल एंबुलेंस ऑपरेटर वेलफेयर एसोसिएशन के राष्ट्रीय प्रवक्ता श्री रशीद अहमद कहा कि अब समस्त भारत के एंबुलेंस संचालकों को एक हो जाना चाहिए और पूरा जोर लगाकर पीएस वेलनेस एप को देश के कोने कोने तक पहुंचाना चाहिए, जिससे देश की आम जनता इसका सही लाभ ले पाए। उन्होंने कहा कि एंबुलेंस संचालकों का भी अपना एक विशेष योगदान रहे और दुर्घटना में किसी एक मरीज की जान बचाने में मदद हो  पाई या उसे अस्पताल सही समय पर अस्पताल पहुंचा दिया जाएं तो इसमें केवल पीएस वेलनेस की विजय नहीं होगी, बल्कि यह देशभर से जुड़े हुए एंबुलेंस संचालकों की विजय होगी। पीएस ग्रुप के निदेशक नसीब सिंह ने बताया कि माता प्रेम भट्ट का सपना था कि बेटे नितिन भट्ट के जन्म दिवस पर ही पीएस वेलनेस मोबाइल एप को लांच किया जाएं। कार्यक्रम में वेलनेस क्षेत्र से जुड़े कई जाने माने लोग उपस्थित थे। सभी ने पीएस वेलनेस एप को बहुत कारगर बताया, और कहा कि भविष्य में इससे लाखों लोग फायदा उठा सकेंगे।
कार्यक्रम में हरियाणा एंबुलेंस एसोसिएशन के अध्यक्ष सुरेन्द्र तंवर, दिल्ली एंबुलेंस एसोसिएशन के एसोसिएटिंग अध्यक्ष आकाश सेठी, ऑल इंडिया एंबुलेंस एसोसिएशन के जसबीर सिंह और सफदरजंग अस्पताल एंबुलेंस एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष बलदेव सिंह उपस्थित थे। मालूम हो कि वर्ष 2009 में पीएस एंबुलेंस सेवा को शुरू किया गया। बड़े बेटे नसीब सिंह भट्ट द्वारा माता पिता के नाम पी माता का नाम प्रेम और एस पिता का नाम सूरत सिंह के नाम पर यह सेवा शुरू की और एक मेडिकल जगह में एक मुकाम हासिल किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here