वर्ष 2021 तक तेज दर से वृद्धि करेगा भारत: उपराष्ट्रपति

0
220

भारत चौहान नयी दिल्ली, उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने विबैंक के आकलन का हवाला देते हुए बुधवार को कहा कि भारत 2021 तक ऊंची दर से आर्थिक वृद्धि करता रहेगा। उन्होंने कहा कि विकसित देशों और पूरी दुनिया की आर्थिक वृद्धि दर की रफ्तार सुस्त पड़ रही है लेकिन विबैंक के आकलन से पता चलता है कि भारत 2021 तक उच्च आर्थिक वृद्धि हासिल करता रहेगा। नायडू ने ग्रिडटेक- 2019 के उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘भारत 2019 में 7.3 प्रतिशत, 2020 में 7.5 प्रतिशत और 2021 में 7.5 प्रतिशत की दर से वृद्धि करेगा। विबैंक के आकलन में विशेषज्ञों ने यह लिखा है। इसलिये वहां अवसर हैं।’’ उन्होंने कहा कि भारत के पक्ष में जनसांख्यिकीय लाभ भी है। आबादी का 65 प्रतिशत 35 वर्ष से कम उम्र का है। नायडू ने कहा कि वि की औसत आर्थिक वृद्धि दर 2019 में 2.9 प्रतिशत और 2020 तथा 2021 में 2.8 प्रतिशत रहेगी। चीन की आर्थिक वृद्धि दर 2019 में 6.20 प्रतिशत रहेगी जो कम होकर 2020 और 2021 में छह प्रतिशत पर आ जाएगी। उन्होंने कहा कि भारत का तीन पैमानों संस्कृति, शांतिप्रियता और अर्थव्यवस्था के कारण सम्मान किया जा रहा है। उपराष्ट्रपति ने कहा, ‘‘दुनिया का भारत में दिलचस्पी लेने का तीसरा महत्वपूर्ण कारण अर्थव्यवस्था है। यह एक महत्वपूर्ण कारक है। लोग भारत में निवेश करना चाहते हैं। उन्होंने यहां पीपीपी मॉडल में भारी सफलता देखी है।’’ उन्होंने कहा कि हर गुजरते दिन के साथ बिजली की बढती मांग को देखते हुए देश को टिकाउ तथा पर्यावरण अनुकूल ऊर्जा की संभावनाओं का पूरा लाभ उठाना चाहिये। उन्होंने कहा कि इलेक्ट्रिक वाहनों को बढावा देना अच्छी बात है। उन्होंने कहा कि हमारे सामने अप्रत्याशित और कई सारी चुनौतियां हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here