कैंसर के इलाज के लिए पहली और सबसे आधुनिक टोमोथेरेपी अब शहर में

0
561

ज्ञान प्रकाश नई दिल्ली, राजधानी के राजेंद्र नगर स्थित एक निजी अस्पताल में कैंसर के इलाज के लिए टोमो थेरेपी के पहले और सबसे आधुनिक संस्करण- रैडीजेक्ट 9 लांच किया। जो बेहद सटीकता और तीव्रता के साथ कैंसर के मरीजों के इलाज में बहुत अधिक कारगर पाई गई है। यह नई और आधुनिक मशीन उन मरीजों के लिए वरदान साबित हुई है जिन्हें गंभीर बीमारियों, खासतौर पर कैंसर के इलाज के लिए रेडिएशन थेरेपी की जरूरी होती है।
राजेंद्र नगर स्थित बीएलके सुपरस्पेशिलिएटी अस्पताल में इस सुविधा की शुरुआत करने के बाद रेडिएशन आंकोलॉजी यूनिट के चेयरमैन डा. एस हुक्कु ने कहा कि टोमोथेरेपी कैंसर के मरीजों के लिए वरदान साबित हुई है। अब इसका इस्तेमाल कैंसर के इलाज के लिए किया जाता है जो दुनिया भर में मौतों का दूसरा सबसे बड़ा कारण है। हाल ही में टोमो थेरेपी की शुरूआत के साथ रेडिएशन ओंकोलॉजी एक नए स्तर तक पहुंच गई है।
खास बातें:
आधुनिक संस्करण: रैडीजैक्ट-9 का अधिग्रहण किया है, जो इंटेलीजेन्ट ट्रीटमेन्ट प्लानिंग से लेकर डेटा मैनेजमेन्ट एवं ट्रीटमेन्ट डिलीवरी के लिए समग्र प्लेटफॉर्म की भूमिका निभाती है। एक रिफाईन्ड एक्स-रे बीमलाईन और नेक्स्ट-जनरेशन इमेजिंग टेक्नालॉजी के इस्तेमाल से यह पण्राली मरीजों को बेहद भरोसेमंद उपचार उपलब्ध कराती है। टोमोथेरेपी कैंसर के इलाज का आधुनिक तरीका है जिसमें इंटेसिटी मोड्यूलेटेड थेरेपी के साथ कम्प्यूटेड टोमोग्राफी (सीटी) स्कैनिंग तककीन (आईजीआरटी- इमेज गाईडेड रेडियोथेरेपी) का इस्तेमाल किया जाता है। टोमो थेरेपी, कैंसर के सबसे जटिल ट्यूमर के इलाज के लिए सबसे आधुनिक और सबसे स्मार्ट रेडिएशन थेरेपी है। डा. शिखा हल्दर के अनुसार सबसे आधुनिक टोमोथेरेपी का लांच सही मायनों में एक उल्लेखनीय उपलब्धि है जो भारत में कैंसर के इलाज के तरीके को पूरी तरह से बदल देगी। इस पण्राली के साथ हम फ्रैक्शनेटेड रेडियोथेरेपी तथा एसबीआरटी एवं रेडियोसर्जरी एक साथ उपलब्ध करा सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here