मौजूदा हालात आपातकाल से भी बदतर: देवेगौड़ा बेंगलुरु

0
224

ज्ञान प्रकाश , कर्नाटक के 12 बागी विधायकों से मिलने मुंबई गए कांग्रेस के एक मंत्री को होटल में प्रवेश करने से रोकने पर गुस्साए पूर्व प्रधानमंत्री और जद(ए) सुप्रीमो एच डी देवेगौड़ा ने बुधवार को कहा कि मौजूदा हालात ’आपातकाल से भी बदतर’ हैं और उन्होंने 60 साल के सार्वजनिक जीवन में ऐसे हालात कभी नहीं देखे। देवेगौड़ा ने कहा कि लोकतंत्र खतरे में है। उन्होंने सभी राजनीतिक दलों से मतभेद भुलाकर ’लोकतंत्र की रक्षा’ के लिये साथ आने की अपील की। उन्होंने कहा, ’मुझे लगता है कि मौजूदा हालात आपातकाल से भी बदतर हैं। डीके शिवकुमार (कांग्रेस के मंत्री) होटल गए लेकिन कमरा बुक होने के बावजूद उन्हें होटल में प्रवेश नहीं करने दिया गया। मैंने अपने 60 साल के सार्वजनिक जीवन में कभी ऐसा होते नहीं देखा। उन्होंने कहा, ’सभी राजनीतिक दलों को मतभेद भुलाकर लोकतंत्र की रक्षा के लिये साथ आना चाहिये।’ देवेगौड़ा ने यह बात कर्नाटक सरकार गिराने के बीजेपी के कथित प्रयासों के विरोध में कांग्रेस-जद(एस) कार्यकर्ताओं द्वारा यहां निकाले मार्च से पहले यह बात कही। कर्नाटक के कांग्रेस-जनता दल (एस) गठबंधन के 10 और 2 निर्दलीय विधायक विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा देने के बाद शनिवार से मुंबई के एक होटल में ठहरे हुए हैं। उनके इस्तीफे से कर्नाटक की कांग्रेस-जद(एस) सरकार पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here