मां के महागौरी और सिद्धिदात्री के पूजन के साथ ही चैत्रीय उत्सव संपन्न

0
330

भारत चौहान नई दिल्ली, राजधानी के शक्तिपीठ,मंदिरों में रविवार को मां भगवती के अष्ठम् एवं नवम् स्वरूप महागौरी और सिद्धिदात्री की विधि पूर्वक पूजन के साथ ही श्रद्धालुओं ने कन्या पूजन कर बीते 8 दिनों से आयोजित नवरात्र उत्सव का समापन किया। इस मौके पर कुछ संस्थाओं की ओर से मर्यादा पुरुषोत्तम राम के जन्मोत्सव पर भव्य शोभायात्रा निकाली।
बद्री भगत झंडेवाला देवी मंदिर में मां के महागौरी स्वरूप का पूजन किया गया। मंदिर ट्रस्ट के न्यासी एवं सचिव कुलभूषण आहूजा के अनुसार मंदिर में मां के दर्शनार्थ भाजपा नेता प्रो. विजय कुमार मल्होत्रा, दिल्ली सरकार कें विपक्ष के नेता विजेंद्र गुप्ता, सात समुंद्र पर कर आए दो दर्जन से अधिक विदेशी पर्यटकों ने भंडारा किया और दर्शन किया। श्री कालका जी मंदिर, कालका जी में महंत सुरेंद्रनाथ अवधूत ने मां भगवतीका पूजन के साथ ही 51 कन्याओं का पूजन कराया। श्री आद्या कात्यानी शक्तिपीठ मंदिर, छतरपुर के कार्तिकेय मंडपम् में भक्तों का भींड देखी गई। पूर्वी दिल्ली के चन्दू पार्क पुरानी अनारकली कालोनी स्थित श्री सीता राम संत सेवा मन्दिर एवं गौ सेवा सदन में महामंडलेर राम गोविन्ददास महात्यागी महाराज के पावन सानिध्य में धूम धाम के साथ मनाया गया। महात्यागी ने कहा कि नवरात्र पर्व के दौरान कन्या पूजन का सबसे बडा महत्व है। नौ कन्याओं को नौ देवियों के प्रतिविंब के रूप में पूजने के बाद ही भक्त का नवरात्र व्रत पूर्ण होता है। अत: अष्टमी व नवमी के दिन कन्याओं को अपने सामाथ्र्य के अनुसार भोग लगाकर दक्षिणा देने मात्र से ही मां दुर्गा प्रसन्न हो जाती हैं और भक्तों को उनका मनचाहा वरदान देती हैं। यह पर्व हमे पवित्रता के साथ साथ स्वच्छता का भी सन्देश देता है । इस सन्देश का हमें सदैव स्मरण रखना चाहिए। श्री संकटमोचक हनुमान मंदिर, कनाट प्लेस लेन में पं. सतीश शर्मा ने पूजन कराया। सोमवार को भंडारा वितरण और सुंदरकांड का आयोजन किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here