बहरीन ने ‘‘आतंकवादी’’ समूह से संबंधों के कारण 115 लोगों से नागरिकता छीनी

0
343

भारत चौहान नई दिल्ली, बहरीन की एक अदालत ने आतंकवाद विरोधी सुनवाई में आज 115 लोगों की नागरिकता रद्द कर दी और दर्जनों लोगों को जेल की सजा सुनायी। देश में हर तरह के विद्रोह को लेकर पिछले एक साल से ज्यादा समय से कार्रवाई जारी है। बहरीन के सार्वजनिक अभियोजन ने कहा कि मामला एक ‘ जुल्फिकार ब्रिगेड्स ’ नाम के एक अल्प ज्ञात आतंकी समूह से जुड़ा है। 2016 में अधिकारियों ने बड़े पैमाने पर उसके सदस्यों को गिरफ्तार करने की घोषणा की थी। अभियोजन पक्ष ने कहा कि इन लोगों ने बम बनाए एवं उसमें विस्फोट किए , हथियार चलाने का प्रशिक्षण लिया और बहरीन में पुलिस अधिकारियों को मारने की साजिशें रचीं। अभियोजन पक्ष ने कहा कि 53 प्रतिवादियों को उम्रकैद की सजा दी गयी जबकि दर्जनों अन्य की सजा जेल में बितायी गयी अब तक की सजा तक सीमित कर दी गयी और 23 को बरी कर दिया गया। बहरीनी अधिकारियों ने तत्काल और जानकारी के लिए टिप्पणी के अनुरोधों के जवाब दिए। ईरान से जुड़े एक ‘‘ आतंकी ’’ समूह का गठन करने के लिए आज 115 बहरीनी नागरिकों को तीन साल से लेकर आजीवन कारावास की सजा सुनायी और उनकी नागरिकता छीन ली। इन लोगों को ‘‘ जुल्फिकार बटालियन्स ’’ का गठन करने का दोषी ठहराया गया। अदालत ने कहा कि उन्होंने बहरीन के खिलाफ ‘‘ शत्रुतापूर्ण कृत्यों को अंजाम देने के इरादे ’’ से ईरान एवं इराक में ईरान के रेवोल्यूशनरी गार्ड से प्रशिक्षण लिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here