अब जनकपुरी सुपरस्पेशिलिटी अस्पताल में कार्डिक, गैस्ट्रो कैथलैब की सुविधा शुरू

0
890

पश्चिमी दिल्ली के रहने वालों के लिए राहत भरी खबर है। इनमें ऐसे मरीजों के लिए और सुखद है जो हृदय और उदर संबंधी विकृतियों से जूझ रहे हैं। उन्हें फालोअप के लिए दिल्ली सरकार, एम्स, सफदरजंग अस्पताल के अति भींड भाड़ वाले अस्पतालों में घंटों लाइन में लगना पड़ता है। इन दिक्कतों को दूर करने के लिए अब जनकपुरी सुपरस्पेशिलिटी हास्पिटल में कार्डियावास्कुलर लैब और इंडोस्कोपिक लैब की सुविधा शुरू हो गई है। दिल्ली सरकार इस लैब में नैदानिक व उपचार संबंधी सेवाएं मुफ्त में प्रदान करेगी। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री सत्येंद्र जैन ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि इस समय दिल्ली सरकार अस्पतालों में सिर्फ जीबी पंत में ही ये दोनों सुविधाएं थी। यहां यह सुविधा लंबे समय से लंबित थी जिसे प्रारंभ करते हुए मुझे प्रसन्नता हो रही है। अस्पताल के निदेशक डा. एमए मेहंदीरत्ता, चिकित्सा अधीक्षक डा. अशोक कुमार, चिकित्सा अधिकारी डा. नितिन शाक्या समेत कई डाक्टर व पैरामेडिकल इस मौके पर उपस्थित थे। डा. शाक्या ने कहा कि इस सुविधा का लाभ पश्चिमी दिल्ली के कम से कम 35 लाख की आबादी को मिलेगा। उन्होंने कहा कि लैब में स्टेंटिंग, पेसमेकर, उदर संबंधी आंतों में होने वाली विकृतियों की शुरुआती जांच के साथ ही इलाज भी मिलेगा। डा. अशोक कुमार इस सुविधा के प्रारंभ होने का लाभ निजी अस्पतालों से अदि भरोसेमंद है। जल्द ही नेशनल बोर्ड ऑफ हास्पिटालिटी एक्रीडेशन जल्द ही मान्यता मिलेगी। डा. कुमार ने उम्मीद जताई की अब ऐसे बीमारों लंबी लाईनों और लंबी दूरी ज्यादा पैसा खर्च करने से भी निजात मिलेगी। उनका जीवन स्तर भी सुधेरगा।
ज्ञान प्रकाश दिल्ली

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here